43 साल की उम्र में क्रिकेट के मैदान में किया ये ख़ास कारनामा, बना दुनिया का पहला बल्लेबाज

43 साल की उम्र में क्रिकेट के मैदान में किया ये ख़ास कारनामा, बना दुनिया का पहला बल्लेबाज

Barhi Live : Rakesh Roshan

इंग्लैंड में खेले जा रहे घरेलू क्रिकेट में केंट की टीम से खेलते हुए डैरेन इयान स्टीवंस ने 225 गेंदों में 235 रनों की मैराथन पारी खेली।

क्रिकेट को अनिश्चितताओं का खेल कहा जाता है। इस खेल में पलक झपकते ही क्या घटित हो जाए किसी को इस बात का जरा भी अंदाजा नहीं होता है। इसी कड़ी में 43 साल के बल्लेबाज ने इतिहास रच दिया है। वो इस उम्र में दोहरा शतक मारने वाले दुनिया के सबसे उम्र दराज प्रथम श्रेणी क्रिकेटर बन गए हैं। इससे पहले 1949 में 40 साल के उपर के बल्लेबाज ने दोहरा मारा था।

इंग्लैंड में खेले जा रहे घरेलू क्रिकेट में केंट की टीम से खेलते हुए हेडिंग्ले मैदान में यॉर्कशायर के खिलाफ डैरेन इयान स्टीवंस ने 225 गेंदों में 235 रनों की मैराथन पारी खेली। जिसके चलते 43 साल की उम्र में वो ऐसा करने वाले दुनिया के पहले बल्लेबाज बन गए हैं।

डैरेन​ ने छठे विकेट के लिए सैम बिलिंग्स के साथ 346 रनों की साझेदारी निभाई, जिससे केंट का स्कोर 39 रन पर पांच विकेट गिरने के बाद 482 रन पर आठ विकेट तक पहुंचा। इस तरह सैम और डैरेन​ के बीच 346 रनों की केंट की तरफ से पांचवी सबसे अधिक रनों की साझेदारी बनी।

डैरेन​ को न्यूजीलैंड के लेफ्ट आर्म स्पिनर एजाज पटेल ने आउट किया। वहीं दूसरी तरफ सैम बिलिंग ने 209 गेंदों में 138 रनों की शानदार कप्तानी पारी खेली।

43 साल के डैरेन​ ने अगले हफ्ते हैम्पशायर के खिलाफ होने वाले मैच के बाद क्रिकेट से संन्यास लेने का मन बनाया था लेकिन इस तरह के दोहरे शतक ने अब उन्हें और खेलने का मनोबल दिया है। जिस पर डैरेन​ ने बीबीसी रेडियो में कहा, “उन्होंने मुझे 15 साल पहले खेलने का मौका दिया और अब मैं बस अपना खेल जारी रखना चाहता हूँ।”

You may also like

गोड्डा के एक आश्रम में साध्वी के साथ हुई सामुहिक बलात्कार का बरही के भाजपा व विहिप कार्यकर्ताओं ने किया घटना की निंदा

Barhi Live : Sonu Pandit झारखंड के गोड्डा