92.5 किलो मादक पदार्थ गांजा के साथ दो युवक, एक महिला एवं एक नाबालिग युवती धराया

92.5 किलो मादक पदार्थ गांजा के साथ दो युवक, एक महिला एवं एक नाबालिग युवती धराया

प्रेस वार्ता कर घटना की जानकारी देते एसडीपीओ मनीष कुमार
बरामद गांजा

एसडीपीओ ने प्रेसवार्ता कर दी जानकारी, टाटा सूमो गोल्ड से बेगूसराय ले जा रहे थे मादक पदार्थ

Barhi Live : Krishna

तिलैया रोड श्रीहोटल के पास से बरही पुलिस ने दो युवक, एक महिला व एक नाबालिग युवती के साथ सफेद कलर की टाटा सूमो गोल्ड संख्या डब्लूबी-02एबी-3793 को जब्त किया है। जब्त किया गया वाहन टाटा सुमो से 92.5 किलो गांजा बरामद किया गया। इस बाबत एसडीपीओ मनीष कुमार व पुलिस इंस्पेक्टर सह थाना प्रभारी ललित कुमार ने संयुक्त रूप से प्रेसवार्ता कर पूरी घटनाक्रम की जानकारी दी।

एसडीपीओ ने बताया कि गुप्त सुचना के आधार पर अंचलाधिकारी ब्रजेश कुमार श्रीवास्तव, पुलिस इंस्पेक्टर ललित कुमार, एएसआई सुनील कुमार तिवारी, सिकंदर सिंह, सत्येंद्र भट्ट सहित दल बल के साथ टीम बनाकर गुरुवार की अहले सुबह उन्हें धर-दबोचा गया। हलांकि पुलिस को देखते ही वे लोग भागने का प्रयास किये। लेकिन सफलता नही मिली। जाँच के दौरान टाटा सुमो के अंदर सिस्टमेटिक तरीके से बॉक्स बनाया गया था, जिसमें करीब 92 किलो गांजा पैकेट के छुपा कर रखा गया था। एसडीपीओ ने जानकारी देते हुए बताया कि आरोपी के से पुछ ताछ से पता चला हैं कि वे लोग गांजा को जमशेदपुर से बेगूसराय ले जा रहे थे।

एसडीपीओ मनीष कुमार व इंस्पेक्टर ललित कुमार के अनुसार इस मादक पदार्थ के हेराफेरी में नियोजित तरीके से तस्करी किया जा रहा था। उन्होंने बताया कि स्थानीय बाजार मुल्य के अनुसार बरामद गांजा का मूल्य लगभग दस लाख रुपया है। पकड़े गए लोगों के पास से पैसे भी जब्त किए गया है। इस बावत बरही थाना में मादक पदार्थ प्रतिषेध अधिनियम एनडीपीएस एक्ट के अंतर्गत मामला दर्ज कर लिया गया है। पकड़े गए लोगों में सीतारामपुर थाना मचखानी निवासी राजकुमार पिता अवध महतो, सुदामा सिंह पिता साहब सिंह एवं चकिया बेगूसराय निवासी कांति देवी पति स्व देसाई साहनी एवं एक नाबालिग युवती शामिल हैं।

सभी को हज़ारीबाग जेल भेज दिया गया। वहीं नाबालिग युवती को चाइल्ड केयर भेज दिया गया। मौके पर पकडी गई महिला को अपनी गलती का एहसास हुआ । वह बार बार पुलिस अधिकारियों से आरजू बिनती कर रही थी। एसडीपीओ मनीष कुमार ने कहा कि गठित टीम के सभी लोगों को रिवार्ड के लिए पुलिस मुख्यालय भेजा जाएगा। एसडीपीओ ने जोर देकर कहा कि उनके अनुमंडल क्षेत्र में किसी तरह का गोरख धंधा, अवैध करोबार की छूट नही दी जा सकती।

You may also like

भाजयुमो की नवगठित टीम के साथ जिलाध्यक्ष ने किया बैठक, पार्टी के उद्देश्यों को जनजन तक पहुंचाने का दिया निर्देश

भाजयुमो की नवगठित टीम के साथ जिलाध्यक्ष ने