अनुमंडलीय अस्पताल में अंतरराष्ट्रीय एड्स दिवस पर रंगोली बनाकर अस्पतालकर्मी व लोगों को किया जागरू

अनुमंडलीय अस्पताल में अंतरराष्ट्रीय एड्स दिवस पर रंगोली बनाकर अस्पतालकर्मी व लोगों को किया जागरू

Barhi live : Sonu pandit
अंतरराष्ट्रीय एड्स नियंत्रण दिवस के अवसर पर बरही अनुमंडलीय अस्पताल में जागरूकता अभियान चलाया गया। जागरूकता अभियान में अनुमंडलीय अस्पताल के चिकित्सक डॉ लखेन्द्र हांसदा मुख्य रूप से शामिल हुए।

अनुमंडलीय अस्पताल परिसर में अस्पतालकर्मियों ने वर्ल्ड एड्स डे की रंगोली बनाकर अस्पताल में आये मरीजों को एड्स के प्रति जागरूक किया।

इस अवसर पर डॉ लखेन्द्र हांसदा ने कहा कि एड्स एक ऐसा बीमारी है, जिसका अभी तक इलाज नहीं मिल पाया है। उन्होंने कहा कि एड्स रोगियों के साथ सामान्य व्यक्तियों जैसा ही व्यवहार करें, ये छुआछूत का रोग नहीं है।

साथ ही कहा कि लोगों में एचआईवी के प्रति जागरूकता लाने के लिए सभी को प्रयास करना चाहिए। सावधानी और बचाव ही इसका बेहतर उपाय है। यह बीमारी हाथ मिलाने, गले लगने या एक दूसरे के साथ रहने से नहीं फैलती।

उन्होंने बताया कि सरकार द्वारा एचआईवी की जांच एवं इलाज सरकार द्वारा बिल्कुल मुफ्त किया जाता है। एड्स विभाग से अनिता कुमारी ने बताया कि एचआईवी एक ऐसा वायरस है जो केवल मानव शरीर में ही पाया जाता है तथा मनुष्य की रोग प्रतिरोधक क्षमता को धीरे धीरे कम कर देता है या फिर नष्ट भी कर देता है।

उन्होंने कहा कि एड्स की आखिरी अवस्था है, जब शरीर रोगों से लड़ने की अपनी ताकत खो बैठता है। साथ ही यह वह अवस्था है जिसमें मनुष्य में एचआईवी के साथ साथ एक अधिक बीमारियों के लक्षण दिखने लगते हैं।

मौके पर डॉ लखेन्द्र हांसदा, बीपीएम नारायण राम, महादेव कुमार, नरेश कुमार, प्रह्लाद कुमार, जावेद अख्तर, कुलदीप कुमार, मो समशाद, टुकलाल प्रसाद, रोहित कुमार, महेंद्र दुबे, बिनोद विश्वकर्मा, उपेंद्र कुमार, अनिता कुमारी, इंदु कुमारी, कामदेनी दुबे, संगीता कुमारी, सावित्री कुमारी, हीरा कुजूर, सुमित्रा कुमारी, संजू रानी, नगीना देवी, माया देवी, अमृता कुमारी, शांति कंडुलमा, ज्योति कुमारी, पुष्पा टोप्पो, विभा कुमारी सहित अन्य अस्पतालकर्मी मौजूद थे।

You may also like

भाजयुमो ने मनाया नेता जी सुभाष चंद्र बोस की 125वी जयंती

भाजयुमो ने मनाया नेता जी सुभाष चंद्र बोस