बरही विधानसभा से 2019 में चुनाव लड़े अरविंद यादव ने बरही की राजनीति पर कहा राजनीतिक वर्चस्व की लड़ाई में बरही विधानसभा की जनता को हो रहा हैं काफी नुकसान

बरही विधानसभा से 2019 में चुनाव लड़े अरविंद यादव ने बरही की राजनीति पर कहा राजनीतिक वर्चस्व की लड़ाई में बरही विधानसभा की जनता को हो रहा हैं काफी नुकसान

Barhi live : Sonu pandit   बरही विधानसभा से 2019 में चुनाव लड़े युवा नेता अरविंद यादव ने बरही की राजनीति पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा हैं कि बरही में जो राजनीतिक जंग छिड़ी है, यह विशुद्ध रूप से राजनीतिक वर्चस्व की जंग है।राजनीतिक वर्चस्व की अहंकार वाली इस जंग में बरही का विकास बहुत पीछे छूट गया है। इस जंग में सबसे बड़ा नुकसान बरही की जनता को झेलना पड़ रहा है। बरही की जनता अब इस जंग से मुक्ति चाहती है। बरही समरसता प्यार और मोहब्बत वाली जगह है, इसको जातीय वर्चस्व का अखाड़ा बनाने की कोशिश करना बिल्कुल निंदनीय है।यह ताकतें बरही का विकास नहीं चाहती, जाति के नाम पर धर्म के नाम पर गोलबंदी, यहां के राजनीतिक तत्वों का खेल हो गया है। इसलिए बरही की जनता इन सब जाति और धर्म के वर्चस्व करने वाले लोगों से मुक्ति चाहती है।किसी भी क्षेत्र का विकास सब को साथ लेकर हो सकता है। जहां तक यादव समाज की बात है तो यादव समाज सबको साथ लेकर चलने वाला अगुआ समाज रहा है, वह कभी भी नफरत करने वाला समाज नहीं रहा है। हम किसी भी समाज के व्यक्ति के साथ होने वाले अन्याय के खिलाफ खड़े रहे हैं। चाहे वह किसी भी समाज का व्यक्ति हो, अगर वह अपराधी है तो उसे संविधान सम्मत सजा होनी चाहिए और जो बेगुनाह उसे न्याय मिलना चाहिए। इसमें राजनीति करना संविधान के खिलाफ है, चाहे इस तरह की राजनीति कोई भी करे, वह घृणा के योग्य है।

You may also like

कृषि सुधार कानून के तहत 2022 तक किसानों की आय होगी दोगुनी

Barhi live : sonu pandit   बरही प्रखण्ड के