बिहार: पहाड़ी के जंगलों में चल रही 5 मिनी गन फैक्ट्री का उद्भेदन, तीन गिरफ्तार

बिहार: पहाड़ी के जंगलों में चल रही 5 मिनी गन फैक्ट्री का उद्भेदन, तीन गिरफ्तार

 

बिहार: पहाड़ी के जंगलों में चल रही 5 मिनी गन फैक्ट्री का उद्भेदन, तीन गिरफ्तारबरामद हथियारों के साथ मुंगेर की एसपी लिपि सिंह.

Barhi live :  Sonu pandit

मुंगेर. नक्सल प्रभावित इलाके (Naxal affected area) राम गिरिया पहाड़ी पर चल रहे 5 मिनी गन फैक्ट्री (Mini Gun Factory) का उद्भेदन किया गया. पुलिस अधीक्षक लिपि सिंह (Superintendent of Police Lipi Singh) के निर्देश पर की गई कार्रवाई बनाई गई टीम ने 3 बदमाशों को भी गिरफ्तार किया है. बताया जा रहा है कि ये सभी हथियार बनाने के काम में संलिप्त थे. मुंगेर एसपी ने बताया कि शामपुर ओपी अंतर्गत रामगिरिया पहाड़ी पर अवैध हथियार बनाए जाने की सूचना मिली थी. पुलिस अधीक्षक द्वारा जिला आसूचना इकाई की टीम को लगाया गया. सूचना इकाई की टीम ने पहले रेकी की तथा सूचना का सत्यापन किया. इसके बाद हवेली खड़गपुर एसडीपीओ संजय कुमार पांडेय के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया.

एसडीपीओ संजय कुमार पांडेय के नेतृत्व में जिला आसूचना इकाई द्वारा खड़कपुर थानाध्यक्ष मिंटू कुमार सिंह और शामपुर ओपी अध्यक्ष पप्पन कुमार के साथ मिलकर छापेमारी की गई. छापेमारी के दौरान पांच मिनी गन फैक्ट्री का उद्भेदन किया गया. पुलिस ने अवैध हथियार बनाने के आरोप में अशोक बिंद, बजरंगी कुमार और मोहम्मद औरंगजेब को गिरफ्तार किया.

पुलिस ने कार्रवाई के दौरान 7.65 एमएमए बोर की 2 सेमी ऑटोमेटिक पिस्टल, एक देशी कट्टा, छह गोलियां, पांच बेस मशीन,  एक ड्रिल मशीन सहित हथियार बनाने के काम में इस्तेमाल आने वाले अन्य सामानों को बरामद किया. हथियार बनाने के गैंग में कई अन्य अपराधकर्मी भी शामिल हैं जिनकी तलाश में पुलिस द्वारा छापामारी की जा रही है.

You may also like

कृषि सुधार कानून के तहत 2022 तक किसानों की आय होगी दोगुनी

Barhi live : sonu pandit   बरही प्रखण्ड के