उत्क्रमित मध्य विद्यालय केवाल के ब्रांड एंबेसडर बने बिनोद कुमार सिंह

उत्क्रमित मध्य विद्यालय केवाल के ब्रांड एंबेसडर बने बिनोद कुमार सिंह

गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मुहैया कराना उनकी रहेगी मकसद : बिनोद सिंह

बरही लाइव : उषा रानी

मवि केवल में ब्रांड एम्बेसडर का चयन को लेकर विद्यालय प्रांगण में अभिभावकों एवम शिक्षाविदों की बैठक हुई। अध्यक्षता विद्यालय प्रबंधन समिति के अध्यक्ष ठाकुर स्वरूप नारायण सिंह एवं संचालन विद्यालय के प्रधानाध्यापक सह सचिव अयोध्या कुमार ने किया ।

बैठक में ब्रांड एंबेसडर चयन की प्रक्रिया से विद्यालय के सचिव ने लोगों को अवगत कराया और बताया की वैसे लोगों को ब्रांड एंबेसडर बनाना है जो शिक्षा के प्रति सकारात्मक सोच रखते हैं एवं जिनमें विद्यालय विकास तथा गुणात्मक शिक्षा पर विशेष ध्यान रहता हो । इसके साथ ही ब्रांड एमबेसडर चयन होने वाले व्यक्ति के पास एंड्राइड मोबाइल होना चाहिए । जिसका संचालन वह खुद कर सके । उपरोक्त अहर्ता को देखते हुए सर्वसम्मति से केवाल निवासी विनोद कुमार सिंह को ब्रांड एंबेसडर के रूप में चुना गया ।

चयनित ब्रांड एंबेसडर विनोद कुमार सिंह ने कहा कि उन्हें जो जिम्मेदारी मिली है उनका निर्वहन ईमानदारी पूर्वक करेंगे। विद्यालय को विकसित करना एवं विद्यालय में गुणात्मक शिक्षा का व्यवस्था करना उनकी प्राथमिकता सूची में रहेगी । उन्होंने बताया विद्यालय में चाहरदीवारी नहीं रहने के कारण विद्यालय परिसर असुरक्षित रहता है । उनका प्रयास रहेगा की संबंधित प्रशासन एवं सांसद विधायक से मिलकर अविलंब चारदीवारी का निर्माण करा सके। उन्होंने सभी शिक्षकों को अपनी भावनाओं से अवगत कराते हुए कहा शिक्षा बच्चों का भविष्य तय करता है इसलिए शिक्षक विद्यालय में बच्चों को गुणात्मक शिक्षा दें ताकि उनका पढ़ाया हुआ बच्चा आगे चलकर एक अच्छा नागरिक बन सकें तथा अपने समाज के विकास में महत्वपूर्ण योगदान दे सकें ।

उन्होंने विद्यार्थियों को स्वच्छता का महत्व बताते हुए अपने विद्यालय और गांव कस्बे को स्वच्छ रखने को लेकर जागरूक किया। उन्होंने कहा कि जैसे भोजन, पानी, ऑक्सीजन और अन्य चीजें हमारे अस्तित्व के लिए महत्वपूर्ण हैं वैसे ही हमारे स्वस्थ शारीरिक और मानसिक सेहत के लिए स्वच्छता भी महत्वपूर्ण है। बैठक में शिक्षक मथुरा प्रसाद, पीताम्बर प्रसाद, क्लोटिलदा बारा, ऋषि केष सिंह, पूनम कुमारी, सुनिता कुमारी, पप्पू कुमार सिंह, मिथिलेश कुमार, मंजू देवी, फूलमती देवी, दुर्गी देवी, चमेली देवी, चरकी देवी, बबिता देवी, अनिता देवी सहित अन्य लोगों का भरपूर सहयोग रहा।

About the author

You may also like

ग्रामीणों ने राशनकार्ड बनने में हो रहे अनियमितता से समाजसेवी रामचन्द्र यादव को कराया अवगत,

ग्रामीणों ने राशनकार्ड बनने में हो रहे अनियमितता