बीआरसी बरही में आयोजित हुई गुरुगोष्ठी, पठन पाठन के विभिन्न मुद्दों पर हुई विस्तृत चर्चा

बीआरसी बरही में आयोजित हुई गुरुगोष्ठी, पठन पाठन के विभिन्न मुद्दों पर हुई विस्तृत चर्चा

बीआरसी बरही में आयोजित हुई गुरुगोष्ठी, पठन पाठन के विभिन्न मुद्दों पर हुई विस्तृत चर्च

Barhi live :   Sonu pandit  बीआरसी बरही में 6 व 7 जनवरी को पठन पाठन व विद्यालय संचालन के विविध मुद्दों पर गुरुगोष्ठी का आयोजन किया गया।

6 जनवरी को तीन सीआरसी व 7 जनवरी को चार सीआरसी के विद्यालय प्रधान कोविड 19 के प्रावधानों का पालन करते हुए इस गुरुगोष्ठी में शामिल हुए।

बरही बीईईओ अरुण कुमार शर्मा के दिशा निर्देश पर बरही बीपीओ नीलम मरांडी ने गुरुगोष्ठी का संचालन करते हुए डीजी स्कूल एप्प, लरनेटिव एप्प, एकेडमिक कैलेंडर वितरण, दीक्षा रजिस्ट्रेशन शैक्षिक संवाद, आठवीं बोर्ड रजिस्ट्रेशन, डिजिटल फेस्टिलेशन प्रशिक्षण, शनिवार क्विज, मध्याह्न भोजन, शिशु पंजी इत्यादि मुद्दों पर विस्तार से अपनी बात रखा और सभी विद्यालय प्रधान को आवश्यक दिशा निर्देश दिया। गुरुगोष्ठी में बीआरपी शीला कुमारी, विक्की चौरसिया व सभी सीआरपी भी उपस्थित रहे।

शिक्षकों की डिजिटल फैसिलिटेशन स्किल बढ़ाने के लिए प्रखंड स्तर पर प्रथम चरण के प्रशिक्षण का समापन :

झारखण्ड शिक्षा परियोजना रांची के निर्देश पर शिक्षकों की डिजिटल फैसिलिटेशन स्किल बढ़ाने के लिए चलाए जा रहे प्रशिक्षण कार्यक्रम में बरही प्रखंड के उन शिक्षकों को प्रशिक्षित किया गया, जो किसी कारण यह प्रशिक्षण प्राप्त नहीं कर सके थे, आज के इस प्रशिक्षण के साथ ही डिजिटल फेसिलेशन प्रशिक्षण कार्यक्रम के प्रथम चरण का आज समापन हुआ।

यह प्रशिक्षण कार्यक्रम दो बैच में चला। जिला स्तर पर ट्रेनिंग प्राप्त कर बरही के 10 मास्टर ट्रेनर प्रखंड स्तर पर सभी शिक्षकों को प्रशिक्षण प्रदान कर रहे हैं। प्रशिक्षण के लिए प्रखंड स्तर पर शिक्षकों के कुल 12 बैच बनाए गए थे, जिसमें किसी कारण से अनुपस्थित रहने वाले शिक्षकों को प्रशिक्षित किया गया। मास्टर ट्रेनर डॉ सुनील यादव व बम बम कुमार राम ने शिक्षकों को प्रशिक्षित किया।

You may also like

झारखंड से पलायन को रोकना झारखंड सरकार की पहली प्राथमिकता : सत्यानंद भोक्ता

झारखंड से पलायन को रोकना झारखंड सरकार की