चक्रवाती तूफान निवार का असर, बिहार-झारखंड में बढ़ी कंपकपी, कांके का पारा गिरा

चक्रवाती तूफान निवार का असर, बिहार-झारखंड में बढ़ी कंपकपी, कांके का पारा गिरा

Weather Forecast Live Update : चक्रवाती तूफान निवार भारी तबाही

Barhi live : Sonu pandit  चक्रवाती तूफान निवार भारी ने तमिलनाडु और पुडुचेरी के कुछ हिस्सों में भारी तबाही मचाया. मौस्म विभाग का अनुमान है कि अगले कुछ घंटों में चक्रवात कमजोर पड़ेगा. तमिलनाडु और पुडुचेरी के कुछ हिस्सों में बुधवार को तेज हवाएं चलने के साथ मूसलाधार बारिश हुई. इस बीच जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में बर्फबारी होने से उत्तर भारत में ठंड बढ़ गई है. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और इसके पड़ोसी शहरों में हवा की गति धीमी होने के कारण वायु की गुणवता खराब होकर गंभीर श्रेणी में पहुंच गई है. दिल्ली में प्रदूषक तत्त्व पीएम 2.5 जनित प्रदूषण में पराली जलने से निकले धुंए की हिस्सेदारी बुधवार को दो प्रतिशत रही. झारखंड-बिहार में भी बारिश की संभावना जतायी जा रही है. मौसम से जुड़ी हरेक अपडेट के लिए बने रहें हमारे साथ…

चक्रवाती तूफान निवार ने ली 3 की जान

भीषण चक्रवाती तूफान ‘निवार’ भले ही कमजोर पड़ गया है, लेकिन उसने अपने पीछे तबाही का मंजर छोड़ दिया है. तमिलनाडु में तूफान से तीन लोगों की अब तक मौत हो चुकी है. जबकि 3 लोग घायल बताये जा रहे हैं. इसके अलावा 101 झोपड़ियां क्षतिग्रस्त हुई हैं. हय जानकारी तमिलनाडु के अतिरिक्त मुख्य सचिव अतुल्य मिश्रा ने दी.

चक्रवात की वजह से पेड़ टूटे, तमिलनाडु के कई हिस्सों में दीवारें गिरी

चक्रवात की वजह से किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है. कई पेड़ जरूर टूटे हैं और तमिलनाडु के कई हिस्सों में दीवारें गिरने की घटनाएं भी सामने आई हैं. इससे पहले आईएमडी ने कहा था कि तूफान के पुडुचेरी के पास तट से गुजरते समय, 120-130 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं, जो बढ़कर 145 किलोमीटर प्रति घंटे भी हो सकती हैं.

पुडुचेरी के निकट पहुंचा ‘निवार’, कमजोर होकर भीषण चक्रवात में हुआ तब्दील

प्रचंड चक्रवाती तूफान ‘निवार’ बृहस्पतिवार तड़के पुडुचेरी के निकट पहुंचा, जिससे केन्द्र शासित प्रदेश और पड़ोसी राज्य तमिलनाडु में भारी बारिश हुई. आईएमडी ने बताया कि ‘निवार’ पुडुचेरी के पास तट से गुजरने के बाद कमजोर होकर भीषण चक्रवाती तूफान में तब्दील हो गया है.

उत्तर प्रदेश में ठंडी हवाओं के साथ हल्का कोहरा

उत्तर प्रदेश के पूर्वी इलाकों में पिछले 24 घंटो में कुछ जगहों पर ठंडी हवाओं के साथ हल्का कोहरा छाया रहा. मौसम विभाग ने जारी एक बयान में बताया कि दिन के तापमान में कुछ खास बदलाव नहीं देखा गया है, झांसी मंडल और वाराणसी मंडल में सामान्य से कम तापमान रहा जबकि राज्य के बाकी हिस्सों में तापमान सामान्य रहा. बयान के मुताबिक राज्य में सबसे अधिक तापमान झांसी और फतेहगढ़ में 27.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जबकि सबसे कम तापमान चुर्क में रहा जहां पारा लुढ़क कर 5.6 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया. आगामी 24 घंटो के बारे में मौसम विभाग का अनुमान है कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश में सामान्यत: मौसम खुश्क रहेगा जबकि पूर्वी उत्तर प्रदेश में कुछ स्थानों पर हल्का कोहरा रहने का अनुमान है.

हरियाणा और पंजाब में न्यूनतम तापमान सामान्य से ऊपर

हरियाणा और पंजाब में न्यूनतम तापमान सामान्य सीमा से ऊपर रहा, जबकि दिन का तापमान सात डिग्री सेल्सियस तक गिर गया और 19-21 डिग्री सेल्सियस के बीच बना रहा.

कश्मीर-हिमाचल में बर्फबारी का असर झारखंड में, पारा गिरा

कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में ताजा बर्फबारी का असर झारखंड में भी दिखने लगा है. यहां पारा भी लगातार गिरता जा रहा है. ठंढ लगातार बढ़ रही है. राजधानी रांची स्थित कांके का न्यूनतम तापमान 6 डिग्री हो गयी है. मौसम विभाग का अनुमान है कि चक्रवाती तूफान का असर झारखंड में भी पड़ सकता है. मौसम विभाग ने बताया, आज मौसम बिगड़ सकता है.

हिमाचल प्रदेश में बर्फबारी

हिमाचल प्रदेश में अच्छी ठंड पड़ रही है और राज्य के ऊपरी इलाकों में ताजा बर्फबारी हुई है जबकि कुछ अन्य हिस्सों में बारिश हुई. लाहौल और स्पीति का प्रशासनिक केंद्र केलांग शून्य से 2.5 डिग्री सेल्सियस नीचे तापमान के साथ राज्य का सबसे ठंडा स्थान रहा, जबकि किन्नौर के कल्पा में शून्य से 0.4 डिग्री सेल्सियस कम तापमान दर्ज किया गया. शिमला में न्यूनतम तापमान 6.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

कमजोर पड़ा तूफान निवार, आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु में मछुआरों को समुद्र में न जाने की सलाह

गंभीर चक्रवाती तूफान निवार उत्तर-पश्चिम की ओर मुड़ गया है. जिससे दक्षिण-आंतरिक कर्नाटक के जिलों में तूफान कमजोर पड़ने लगा है. इस बीच मछुआरों को दक्षिण-तटीय आंध्र प्रदेश और उत्तरी-तटीय तमिलनाडु में समुद्र में न जाने की सलाह दी गयी है. आईएमडी के अनुसार चेन्नई में कल तक मध्यम बारिश होगी.

चक्रवाती तूफान के कारण चेन्नई एयरपोर्ट बंद

चक्रवाती तूफान निवार के कारण चेन्नई एयरपोर्ट आज 9 बजे तक के लिए बंद कर दिया गया है. चेन्नई एयरपोर्ट की ओर से जारी बयान में बताया गया कि च्रकवात को देखते हुए बंद को आगे बढ़ाया जा रहा है.

कश्मीर में बर्फबारी और बारिश

कश्मीर में अधिकतर स्थानों पर रुक-रुक कर हो रही बर्फबारी और बारिश बुधवार को तीसरे दिन भी जारी रही, जबकि मौसम विभाग ने बृहस्पतिवार से लेकर अगले सप्ताह तक मुख्य रूप से शुष्क मौसम रहने का अनुमान जताया है. श्रीनगर सहित कई मैदानी इलाकों में में बारिश हुई. उत्तरी कश्मीर के गुलमर्ग में रात के दौरान चार इंच ताजा बर्फबारी दर्ज की गई, जबकि दक्षिण कश्मीर के पहलगाम में लगभग एक इंच बर्फ दर्ज की गई. घाटी को लद्दाख से जोड़ने वाले श्रीनगर-लेह मार्ग पर सोनमर्ग-जोजिला क्षेत्र सहित घाटी के कई ऊंचे इलाकों में बर्फबारी की खबरें हैं.

You may also like

भाजयुमो ने मनाया नेता जी सुभाष चंद्र बोस की 125वी जयंती

भाजयुमो ने मनाया नेता जी सुभाष चंद्र बोस