दो बेटियों को जहर खिला मां ने भी खा लिया जहर, बेटियां बची मां की मौत

दो बेटियों को जहर खिला मां ने भी खा लिया जहर, बेटियां बची मां की मौत

Barhi live : Sonu pandit  चुरचू प्रखंड के आंगो थाना क्षेत्र में एक मां ने अपनी दो बेटियों को जहर दे दिया। संयोग से दोनों बेटियां तो बचा ली गयीं पर मां नहीं बच सकी। उसकी मौत अस्पताल आने के दौरान रास्ते में ही हो गया। यह मामला आंगों थाना क्षेत्र के मांडू प्रखंड की कीमो पंचायत के टुटकी गांव का है। चुरामन महतो की पत्नी किटी देवी (33) ने बृहस्पतिवार रात में लगभग 12:00 बजे जहर खा लिया। इससे पहले उसने अपनी दो बेटियों क्रमश: सात वर्ष और पांच वर्ष को भी जहर खिला दिया। बड़ी बेटी की पहल से बची दो बहनों की जानजैसे ही बड़ी बेटी को इस बात की जानकारी हुई कि उसकी मां ने उसकी दो बहनों को जहर खिला दिया है। तुरंत उसने जुगत लगाकर उनकी उल्टियां करवाई। इसमें पड़ोसियों ने भी मदद की। इससे उनकी जान बच गयी। इधर पड़ोसी मां की उल्टियां करवाने की कोशिश करते रहे पर उल्टी नहीं हुई। आनन- फानन में हजारीबाग एचएमसीएच के लिए लोग निकले। अस्पताल में पहुंचने से पहले ही मां ने दम तोड़ दिया। सुबह होते ही ग्रामीणों ने इसकी सूचना आंगों थाना प्रभारी अभय कुमार सिंह को दी। आंगों थाना प्रभारी ने अपने दल बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और इसके बाद शव को अपने कब्जे में लेकर हजारीबाग सदर अस्पताल पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। मलेशिया में रहता है पति एक साल से नहीं आयाथाना प्रभारी ने बताया कि मृतका किटी देवी का पति मलेशिया में रहता है। वह वहां किसी कंपनी में मजदूरी करता है। एक साल से वह घर नहीं लौटा है। इस कारण महिला तनाव में थी। महिला की चार बेटियां है। सबसे बड़ी बेटी 16 साल की दूसरी 11 साल तीसरी सात चौथी पांच की। बच्चों पर टूटा विपत्ति का पहाड़मां की अचानक मौत हो जाने से बच्चियों पर विपत्ति का पहाड़ टूट गया है। पिता विदेश में रहते हैं और घर में रिश्तेदार ही है। ऐसे में उनके लालन पालन की परेशानी उत्पन्न हो गयी है।

You may also like

कृषि सुधार कानून के तहत 2022 तक किसानों की आय होगी दोगुनी

Barhi live : sonu pandit   बरही प्रखण्ड के