13 करोड़ का स्वच्छ जल मीनार के घटिया निर्माण से ग्रामीणों में बड़ी दुर्घटना की आशंका

13 करोड़ का स्वच्छ जल मीनार के घटिया निर्माण से ग्रामीणों में बड़ी दुर्घटना की आशंका

2 नम्बर की ईंट

श्मसान घाट में कार्य शुरू होते ही दो मासूम बच्ची चढ़ चुकी है बली बेदी पर : प्रमिला

Barhi Live : Harendra Rana

चौपारण प्रखंड के बच्छई पंचायत के ग्राम डुमरी में पीएचडी विभाग के सौजन्य से अजोरेस इंफ्रास्ट्रक्चर प्राइवेट लिमिटेड प्रधान टावर मेन रोड रांची द्वारा जल मीनार एवं कैमिकल हाउस का निर्माण किया जा रहा है। बच्छई पंचायत के पंसस प्रमिला देवी ने मौजा बच्छई के बराकर नदी से पाइप के माध्यम से पानी लेकर ग्राम डुमरी के श्मसान घाट में बन रहा जल मीनार और कैमिकल हाउस का निर्माण घटिया सामाग्री से किये जाने पर चिंता व्यक्त करते हुए उच्चाधिकारियों का ध्यान आकृष्ट किया है।
           उन्होंने कहा कि प्रखंड के दर्जनों गांव को शुद्ध पेयजल आपूर्ति के लिए पीएचडी विभाग ने लगभग 13 करोड़ के प्राक्कलित राशि से डुमरी और चौपारण में जल मीनार और कैमिकल हाउस का निर्माण करवा रही है। उन्होंने कहा कि एक तरफ अजोरेस इंफ्रास्ट्रक्चर प्राइवेट लिमिटेड द्वारा श्मसान घाट भूमि पर बिना किसी प्रकार के सुरक्षा व्यवस्था किये निर्माण कार्य शुरू कर दिया था।
      कैमिकल हाउस बनाने के लिए 10 फीट लम्बा, चौड़ा और गहरा गड्ढे खोद दिया। बारिस होने के बाद गड्ढे में लबालब पानी भर गया। जिसमें निर्माण स्थल से 100 मीटर दूर की दो मासूम बच्ची कोमल और सोनम खेलने के क्रम में डूब कर बलि बेदी पर चढ़ गई। पंसस सहित ग्रामीणों का कहना है कि 1912-13 के सर्वे के आधार पर खाता नंबर 74 प्लॉट नंबर 512 को गांव के मानचित्र एवं खतियान में श्मसान घाट के रूप में दर्शाया गया है। उक्त भूमि पर वर्षो से पूरे गांव के बच्चों के असमय मृत्यु होने पर शव को मिट्टी देकर अंतिम संस्कार किया जाता था।
             पंसस प्रमिला सहित ग्रामीणों का कहना है कि दूसरी तरफ संवेदक अजोरेस इंफ्रास्ट्रक्चर प्राइवेट लिमिटेड द्वारा घटिया ईंट, लोकल ब्रांड का सरिया (लोहा) एवं मीनी प्लांट का सीमेंट का उपयोग कर भविष्य में बड़ी घटना का निमंत्रण देने का काम कर रहा है। जिससे गांव के लोगों को सुविधा कम और जान पर आफत ज्यादा आने की चिंता सता रही है।
क्या कहते है पीएचडी अधिकारी : पीएचडी विभाग के कनीय अभियंता आर पी सिंह का कहना है कि सही बना रहा है गलत इसका जबाब देने का ऑथोराइज नही है। मैने जो भी कमी पाया वह संवेदक और उच्चाधिकारी को बता दिया है। वही सहायक कनीय अभियंता मिंज साहब से ईंट, सरिया एवं सीमेंट के बारे में पूछने पर कहा कि घटिया ईंट लगा रहा था। जिसे हटाने को कहा गया है और परिसर में रखा गया सरिया का उपयोग नही करने को कहा गया है। साथ ही कहा कि जो निर्माण कार्य किया जा चुका है। उसकी जांच की जायेगी और गड़बड़ी पाए जाने पर उचित करवाई किया जाएगा।
क्या कहते है संवेदक : अजोरेस इंफ्रास्ट्रक्चर प्राइवेट लिमिटेड प्रधान टावर मेन रोड रांची संवेदक विनय प्रधान से दूरभाष पर संपर्क करने पर कहा कि वाट्सअप पर ईंट और सरिया का फोटो भेज दे, देख लेंगे।

You may also like

कार्यकर्ता प्रखंड में समन्वय बनाकर चुनाव की तैयारी करें : मनोज

प्रखंडस्तरीय बूथ समिति व कार्यकर्ता सम्मेलन में उमड़े