झारखंड प्रजापति महासंघ ने सरकार के यातायात नीति का किया विरोध

झारखंड प्रजापति महासंघ ने सरकार के यातायात नीति का किया विरोध

कैंप लगाकर लाइसेंस बनाने व फाइन से ही हेलमेट व बीमा पत्र उपलब्ध कराने की मांग

बरही लाइव : उषा रानी

झारखंड प्रजापति महासंघ बरही इकाई की बैठक प्रजापति भवन बरही में हुई। बैठक में झारखंड प्रजापति के जिला संयोजक गोपाल पंडित मुख्य रूप से शामिल हुए। बैठक में संघ की ओर से सरकार की नई यातायात नीति का विरोध किया गया। गोपाल पंडित ने कहा कि परिवहन मंत्री ने पुलिस प्रशासन को यातायात के नाम पर एक तरह की गुंडागर्दी की पूरी छूट दे रखी है। जिससे लोगों मे आक्रोश बढ़ता जा रहा है। पुलिस प्रशासन प्रत्येक दिन लोगों से अवैध तरीके से पैसा वसूल रही है। चालको के साथ मारपीट कर रही है।

उन्होंने कहा मैं परिवहन मंत्री से निवेदन की करता हूं कि यदि आप चालको एवं मोटर मालिकों से सच्ची में मोटर यातायात नियम का पालन करना चाहते हैं तो ड्राइविंग लाइसेंस जगह जगह पर कैंप लगाकर बनवाने का कष्ट करें। जो मोटरसाइकिल मालिक के पास हेलमेट नहीं है गाड़ी पकड़ते ही सबसे पहले वही पर फाइन लेकर हेलमेट तुरंत दें। जिस गाड़ी में इंश्योरेंस पेपर नहीं है वही तुरंत गाड़ी खड़ी कर बीमा पेपर देने की व्यवस्था कराएं। जिससे जनता में एक खुशी का माहौल पैदा होगा एवं भ्रष्टाचार मुक्त मेरा भारत होगा।

आज देख रहे हैं लाइसेंस के लिए ड्राइवर सीखने के बाद भी 25 से 30000 रुपया एक लाइसेंस बनवाने में लग रहा है। जिसे गरीब आदमी की बस की बात नहीं है। सरकार हमारी बातों को अगर लगता है ठीक तो इसे लागू करें अन्यथा जनता उग्र रूप लेकर धरना प्रदर्शन पर बैठने का विचार बना लिया है। बाजार धंधा में इतना गिरावट आ गया कि लोग आत्महत्या करने में मजबूर हो रहे है।ं

इसके बावजूद भी सरकार की नजर इसे उठाने में नहीं है और जनता को परेशान करने में पड़ी है । आज जितने भी मोटर मालिक हैं किस्त के भुगतान करते करते या तो अपना सारा जमीन बिक्री कर देते हैं या साहूकारों कर्ज लेकर कर्ज नहीं चुका पा रहे हैं। नई यातायात नियम का विरोध करने वालों में सुरेंद्र पंडित, अरूण प्रजापति, अर्जुन प्रजापति, दिनेश पंडित, नारयण प्रजापति सहित कई लोग शामिल हैं।

You may also like

भाजयुमो की नवगठित टीम के साथ जिलाध्यक्ष ने किया बैठक, पार्टी के उद्देश्यों को जनजन तक पहुंचाने का दिया निर्देश

भाजयुमो की नवगठित टीम के साथ जिलाध्यक्ष ने