मीनाक्षी लेखी सहित दो दर्जन सांसद पाए गए कोरोना संक्रमित

मीनाक्षी लेखी सहित दो दर्जन सांसद पाए गए कोरोना संक्रमित

Coronavirus Outbreak in Parliament: मीनाक्षी लेखी सहित दो दर्जन सांसद पाए गए कोरोना संक्रमित
Coronavirus Outbreak in Parliament of India मानसून सत्र में मीनाक्षी लेखी सहित दो दर्जन सांसद कोरोना संक्रमित पाए गए हैं।

Barhi live: sonu pandit

जागरण ब्यूरो, नई दिल्ली। मीनाक्षी लेखी सहित दो दर्जन सांसद कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं। सोमवार को मानसून सत्र का पहला दिन रहा। दो दर्जन से ज्यादा सांसद व लगभग चार दर्जन संसदीय कर्मचारी व अधिकारी कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। उन्हें क्वारंटाइन में रहने को कहा गया है। सोमवार को भी वह संसद नहीं आए थे। कोरोना टेस्ट के बाद ही संसद आने की अनुमति का फैसला सही साबित हुआ है।

सभी सांसदों, कर्मचारियों व पत्रकारों को टेस्ट रिपोर्ट के साथ आने को कहा गया था। जो नेगेटिव थे, केवल उन्हें ही अनुमति मिली। बताया जाता है कि दो दर्जन से ज्यादा सांसद पॉजिटिव पाए गए है। सभी संबद्ध लोगों के लिए संसदीय परिसर में टेस्ट की सुविधा लगातार बरकरार रहेगी। सूत्रों के अनुसार, स्थिति को देखते हुए एक सप्ताह के बाद फिर से टेस्ट के लिए भी कहा जा सकता है।

कोरोना संक्रमित सांसदों में अनंत कुमार हेगड़े और प्रवेश साहिब सिंह वर्मा भी शामिल हैं। भाजपा के कई सांसद कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं। जिसमें शिवसेना, डीएमके और वाईआरएससी के भी सांसद कोरोना संक्रमित हैं।

मानसून सत्र शुरू होने से पहले सांसदों का कोरोना टेस्ट किया गया था। इनमें से अभी तक 17 सांसदों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। कोरोना टेस्ट का इंतजाम 13 और 14 अगस्त को संसद परिसर में ही किया गया था। सांसदों तथा कर्मचारियों समेत 4000 से ज्यादा लोगों की कोरोना जांच की गई है।

ये सांसद पाए गए कोरोना से संक्रमित

मीनाक्षी लेखी (भाजपा), प्रवेश साहिब सिंह (भाजपा), सत्यपाल सिंह (भाजपा), सुखबीर सिंह (भाजपा), सुकांता मजूमदार (भाजपा), अनंत हेगड़े (भाजपा), जनार्दन सिंह सिग्रीवाल (भाजपा), रामशंकर कठेरिया (भाजपा), प्रताप राव पाटिल (भाजपा), विद्युत बरन महतो (भाजपा), प्रधान बरुआ (भाजपा), रोडमल नागर (भाजपा) हनुमान बेनीवाल (आरएलपी), जी माधवी (वाईआरएससी), प्रताप राव जाधव (शिवसेना), एन रेडेप्पा (वाईआरएससी), और सेल्वम जी (डीएमके)।

वहीं, इस बीच आज मानसून सत्र के पहले दिन लोकसभा में कोरोना संकट पर बहस हुई। कोरोना वायरस पर लोकसभा में स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने बताया कि अधिकतम मामले और मौतें मुख्य रूप से महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, कर्नाटक, यूपी, दिल्ली, पश्चिम बंगाल, बिहार, तेलंगाना, ओडिशा, असम, केरल और गुजरात से हुई हैं। उन्होंने कहा कि हमारे प्रयासों की वजह से देश में कोरोना को सीमित करने में कामयाबी मिली। प्रति 10 लाख जनसंख्या पर भारत में 3,328 मामले हैं और 55 मौतें हैं, जो दुनिया के अन्य देशों की तुलना में कम

You may also like

हजारीबागPollution : प्रदूषण मानकों का उल्लंघन, ग्रामीणों ने की सांस लेने में कठिनाई की शिकायत

ग्रामीणों ने की सांस लेने में कठिनाई की