पडरिया उप स्वास्थ्य केंद्र की एएनएम एक दिन बाद की तिथि में करती है ओपीडी, हाजिरी भी बना लेती एडवांस में आयुष चिकित्सक की जांच में हुई पुष्टि, डीएस ने कहा होगी कार्रवाई

पडरिया उप स्वास्थ्य केंद्र की एएनएम एक दिन बाद की तिथि में करती है ओपीडी, हाजिरी भी बना लेती एडवांस में आयुष चिकित्सक की जांच में हुई पुष्टि, डीएस ने कहा होगी कार्रवाई

एडवांस डेट में देखा गया फर्जी ओपीडी
एडवांस डेट 12 तारीख को बनाई गई हाजिरी

Barhi Live : Krishna

दो माह पहले अनुमंडलीय अस्पताल के द्वारा संचालित उप स्वास्थ्य केंद्रों की औचक जांच में इस बात की पुष्टि हुई थी कि उप स्वास्थ्य केंद्र की एएनएम गलत रिर्पोटिंग कर अनुमंडलीय अस्पताल के डीएस एवं सीएस को गुमराह करती हैं। इस पर सीएस डॉ कृष्ण कुमार ने रिर्पोट में सुधार लाने की नसीहत दी थी। लेकिन उसके बाद कुछ स्वास्थ्य केंद्रो में सुधार हुआ। लेकिन उप स्वास्थ्य केंद्र की एएनएम मालती देवी के कार्य प्रणाली में सुधार नही हुआ। इसकी एक बानगी बुधवार को औचक निरीक्षण में देखने को मिला। डीएस के निर्देशानुसार आयुष चिकित्सक डॉ एजाज हुसैन ने उप स्वास्थ्य केंद्र का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान देखा गया कि एएनएम मालती देवी 11 सितंबर को उपस्थित होकर 12 सितंबर के तिथि की हाजिरी बना ली।

इतना ही नही 12 तारीख के तिथि में एडवांस ओपीडी भी कर ली। जांच के बाद पता चला कि एएनएम एडवासं हाजिरी बनाकर गायब रहती है। बासुदेव महतो, राजकुमार, गोमिया मसोमात, गीता देवी, इमरान अंसारी को भी 12 सितंबर के डेट में ओपीडी देख लिया गया दिखाया गया। इतनी बडी लापरवाही क्या संकेत दे रही है। यह विचारणीय विषय है।

इतना ही नही अधिकांश काम वहां एमपीडब्लू के द्वारा किया जाता है। सही तरीके से स्वास्थ्य केंद्र का संचालन नही होने से लोग स्वास्थ्य सेवाओं से वंचित रहते हैं। एडवांस हाजिरी एवं एडवांस ओपीडी शो कर गायब रहने का एक अनुठा कारनामा देखने को मिला है। इस बाबत एएनएम मालती देवी से पूछे जाने पर बताया कि गलती से 12 तारीख लिखा गया है। चस्मा उनके पास नही था। इसलिए गलती हुई है। इधर इस मामले में डीएस डॉ एसएसपी सिंह ने बताया कि एडवासं हाजिरी बनाना एवं एडवांस में ओपीडी शो करना गंभीर बात है। लेकिन जांच कर्ता डॉ एजाज हुसैन के द्वारा उनहे लिखित रूप से जानकारी नही दी। इस पर स्पष्टीकरण पूछा जाएगा। संतोषजनक जबाब नही देने पर विधि सम्मत कार्रवाई की जाएगी।

 

You may also like

राजनीतिक भागीदारी व समाजिक उत्थान को लेकर अति पिछडा विकास मोर्चा का गठन

चार मुख्य संरक्षक सहित 15 सदस्यीय संरक्षकों की