प्रजापति महासंघ की मासिक बैठक में प्रजापति भवन निर्माण, राजनीति, संगठन मजबूती एवं माटी कला बोर्ड को लेकर हुई चर्चा

प्रजापति महासंघ की मासिक बैठक में प्रजापति भवन निर्माण, राजनीति, संगठन मजबूती एवं माटी कला बोर्ड को लेकर हुई चर्चा

बरही डीह निवासी अर्जुन प्रजापति देंगे प्रजापति भवन के लिए जमीन दान
बरही लाइव : उषा रानी
झारखंड प्रजापति कुम्हार महासंघ की अनुमंडल इकाई की बैठक गया रोड स्थित प्रजापति भवन में हुई। अध्यक्षता कमल शंकर पंडित एवं संचालन सचिव देवधारी प्रजापति ने किया । बतौर मुख्य अतिथि जिला संयोजक गोपाल पंडित मौजूद रहे। बैठक में संगठन की मजबूती के लिए ग्राम संगठन का गठन, राजनीतिक भागीदारी एवं प्रजापति धर्मशाला को लेकर गहन चर्चा हुई। बैठक में बरहिडिह निवासी अर्जुन प्रजापति द्वारा घोषणा किया गया कि यदि समाज चाहे तो वे प्रजापति समाज के लिए धर्मशाला निर्माण के जमीन दान कर सकते हैं । उन्होंने जमीन दान देने की बात कही। इस पर उपस्थित सभी लोगों ने ध्वनि मत से उनका समर्थन किया । साथ ही उन्हें हर संभव सहयोग करने की बात कही। इसके लिए समाज की ओर से निर्णय लिया गया की जिस स्थान पर धर्मशाला का निर्माण होना है उस स्थल का निरीक्षण करना जरूरी है। इसके लिए एक तिथि निर्धारित करने की बात कही गई ।
इसके अलावा जिला संयोजक गोपाल पंडित के द्वारा बताया गया की माटी कला बोर्ड की ओर से रांची में माटी कला से जुड़े लोगों के लिए प्रशिक्षण की व्यवस्था की गई है इसमें इच्छुक लोग भाग ले सकते हैं। इसके लिए माटी कला बोर्ड को आवेदन करना होगा। मौके पर उन्होंने इच्छुक लोगों की सूची उनके पास जमा करने की बात कही। मौके पर प्रजापति समाज के द्वारा फिर दोहराया गया कि अब प्रजापति समाज वोट देने वाला नहीं बल्कि वोट लेने वाला बनेगा । सभी ने जोर देकर कहा इस बार प्रजापति समाज का बेटा खुद विधानसभा के लिए चुनाव मैदान में उतरेगा। इसके लिए व्यापक तौर पर जागरूकता अभियान चलाने का निर्णय किया गया । सभी ने कहा कि प्रत्येक गांव में ग्राम संगठन बनाकर राजनीतिक चेतना जागृत करने का काम किया जाएगा ।।
मौके पर नारायण प्रजापति, गोपाल पंडित, संतोष कुमार प्रजापति, बद्री प्रजापति, रिलेश कुमार प्रजापति, विजय प्रजापति, रामेश्वर पंडित, अरुण पंडित, अर्जुन प्रजापति, संदीप पंडित, सुरेन्द्र कुमार पंडित, सुरेन्द्र पंडित, श्यामदेव पंडित, नंदलाल पंडित, दीपू प्रजापति, योगेंद्र प्रजापति, धनेश्वरी देवी, गौरा देवी आदि मौजूद थे।
————————-

You may also like

विधि विद्यार्थियों ने राज्यपाल के नाम कुलपति को दिया ज्ञापन

13 महीने पीछे चल रहे एलएलबी सत्र 2018-21