पुलवामा हमला में शहीद हुए वीर जवानों को दी गई श्रद्धांजलि, वीर जवानों का सम्मान करना हमारा कर्तव्य

पुलवामा हमला में शहीद हुए वीर जवानों को दी गई श्रद्धांजलि, वीर जवानों का सम्मान करना हमारा कर्तव्य

पुलवामा हमला में शहीद हुए वीर जवानों को दी गई श्रद्धांजलि, वीर जवानों का सम्मान करना हमारा कर्तव्य

Barhi live : Sonu pandit   बरही प्रखंड के युवाओं के द्वारा रविवार देर शाम पुलवामा आतंकी हमले में शहीद वीर जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित किया गया। साथ ही हिन्दू भाई रिंकू शर्मा को भी श्रद्धांजलि अर्पित किया गया। मौके पर युवाओं ने कहा कि हमारे देश के वीर जवान हमलोगों की रक्षा के लिए अपने प्राणों की बलिदान तक दे देते है।

अपने जीवन को कुर्बान कर देने वाले पल-प्रति-पल मौत के साये में बैठे रहने वाले, अपने घर-परिवार से दूर नितांत निर्जन में कर्तव्य निर्वहन करने वाले जाँबाज़ सैनिकों के लिए बस चंद शब्द, चंद वाक्य, चंद फूल, दो-चार मालाएँ, दो-चार दीप और फिर उनकी शहादत को विस्मृत कर देना, उन सैनिकों को विस्मृत कर देना बस!

इतना सा ही तो दायित्व निभाते हैं हम, ये अपने आप में कितना आश्चर्यजनक है हमलोगों को यह प्रण लेना चाहिए कि हम अपने सैनिकों को हमेशा सम्मान दें। हमारे लिए असली हीरो हमारे देश के सैनिक ही होने चाहिए, जो हमारे देश एवं देशवासियों की रक्षा के लिए अपने प्राणों की बलिदान तक दे देते है कि जिन सैनिकों के चलते हम स्वतंत्रता का आनंद उठा रहे हैं।

उन्हीं सैनिकों को हमारा समाज न तो जीते-जी यथोचित सम्मान देता है और न ही उनकी शहादत के बाद। देखा जाये तो अंतिम सच यही है। कठोर सच यही है। आँसू लाने वाला सच यही है।

तिरंगे पर मर मिटने वाला सच यही है। परिवार में एक शहादत के बाद भी उनकी संतानों सैनिक बनाने वाला सच यही है। कम से कम हम नागरिक तो इस सच को विस्मृत न होने दें; कम से कम हम नागरिक तो सैनिकों के सम्मान को कम न होने दें।

कम से कम हम नागरिक तो उनकी शहादत पर राजनीति न होने दें। कम से कम हम नागरिक तो उन सैनिकों को गुमनामी में न खोने दें। आइये संकल्पित हों, अपने देश के लिए अपने तिरंगे के लिए और उससे भी आगे आकर अपने जाँबाज़ सैनिकों के लिए जो हर समय अपने देश की रक्षा के लिए अपने देशवासियों की रक्षा के लिए हमेशा तात्पर्य रहते है।

हम युवाओं को अपने आने वाली पीढ़ियों को यह बताने की जरूरत है कि हमसब को अपने सैनिकों का सम्मान करना चाहिए और हर समय हम सबको अपने सैनिकों पर गर्व महसूस करना चाहिए और वहीं दूसरी तरफ दिल्ली के मंगोलपुरी में हिन्दू भाई रिंकू शर्मा की निर्मम हत्या कर दी गयी।

आखिर कब तक समाज में वैसे लोग जाती धर्म के नाम पर मारने का काम करते रहेंगे। दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए और रिंकू शर्मा को न्याय मिलना चाहिए। इस कार्यक्रम के माध्यम से इन्होंने बताया कि हमलोगों को एकजुट होने की आवयश्कता है अगर हमलोग एकजुट नही हुए तो आज हमारा भाई रिंकू शर्मा मारा गया है कल कोई और होगा।

श्रद्धांजलि सभा में समाजसेवी रमेश ठाकुर, रंजीत चन्द्रवँशी, अजय दुबे, सुनील साहू, शिवम आनंद, रितेश गुप्ता, सोनू केशरवानी, पंकज केशरी, मुन्ना यादव, गुरुदेव गुप्ता, नंदकिशोर कुमार, जितेंद्र ठाकुर, राजा आज़ाद सिंह, अरविंद कुमार उर्फ पिंटू, निकेश कुमार पुरषोतम पांडेय, पप्पू चन्द्रवँशी, प्रमोद सिंह, इमरान खान, अनुज कुमार, पिंटू यादव, पिंटू ठाकुर, गौतम ठाकुर, अमित सिंह, जितेंद्र गिरी, बबलू केशरी, आभास कुमार, राकेश सिंह, विक्की कुमार, विक्रम पांडेय, सत्रुजीत कुमार, अभिजीत कुमार आदि उपास्थि थे।

You may also like

भाजयुमो की नवगठित टीम के साथ जिलाध्यक्ष ने किया बैठक, पार्टी के उद्देश्यों को जनजन तक पहुंचाने का दिया निर्देश

भाजयुमो की नवगठित टीम के साथ जिलाध्यक्ष ने